आईयूसी क्या होता है – What is IUC in Hindi

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) के अनुसार आईयूसी (IUC)  यानि कि इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (Interconnect Usage Charge) हैं, आईयूसी (IUC) को हम सरल भाषा मे समझते हैं, मान लीजिए आपके पास जियो (JIO) की सिम है और आप जिओ (JIO) की सिम से अन्य ऑपरेटर जैसे कि आइडिया (IDEA), एयरटेल (AIRTEL) पर कॉल करते हो तो  यह एक ऑपरेटर से दूसरे ऑपरेटर में कॉल ट्रांसफर होता है इसे ही इंटरकनेक्ट कहा जाता है।

what is IUC – IUC kya hain

     आपने जिओ से एयरटेल में कॉल किया है, लेकिन आपने जो रिचार्जर करवाया है वह जिओ में करवाया हैं, लेकिन आप जिस नंबर पर कॉल कर रहे हो वह तो एयरटेल का हैं, इस लिए आपकी कॉल एयरटेल ऑपरेटर पर इंटरकनेक्ट होकर बात हो रही है।

     अब यहां पर एयरटेल का भी उपयोग हो रहा है लेकिन उसे कोई चार्ज नहीं दिया जा रहा है ऐसी स्थिति में भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI) ने आईयूसी (IUC) चार्ज लागू करते हुए कहा हैं कि जिस ऑपरेटर द्वारा कॉल किया जा रहा है उनके द्वारा कॉल रिसीव करने वाले ऑपरेटर को छह पैसे प्रति मिनट (6 Paisa/Minutes) के हिसाब से पैसा देना होगा।

आईयूसी का फूल फॉर्म क्या हैं – IUC Full Form in Hindi

आईयूसी (IUC) का नाम तो आपने सुना ही होगा लेकिन क्या आप जानते हैं इस का फुल फॉर्म (Full Form ) क्या होता है और यह इतना चर्चा में क्यों है, लगभग सभी मोबाइल ऑपरेटर 6 पैसे प्रति मिनट के हिसाब से चार्ज करने लगें हैं और उसने बताया जा रहा है कि आईयूसी (IUC) चार्ज हैं। तो हम बात करते हैं आईयूसी (IUC) चार्ज क्या है, इसका फुल फॉर्म क्या होता है, दोस्तों आईयूसी (IUC) फुल फॉर्म इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (Interconnect Usage Charge) होता है।

आईयूसी (IUC) की शुरुआत।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI) ने आईयूसी (IUC) चार्ज वर्ष 2003 से ही लेना शुरू कर दिया था लेकिन उस समय मोबाइल ऑपरेटरों का चार्ज बहुत ज्यादा हुआ करता था इसी कारण से हमें पता नहीं चलता था, उस समय सेम ऑपरेटर पर भी हमें बहुत ज्यादा पैसा देना होता था और अन्य ऑपरेटर पर तो हद से ज्यादा पैसा देना होता था, उसके साथ ही डाटा भी बहुत महंगा था लेकिन समय के साथ बहुत ज्यादा बदलाव हुआ और वर्तमान में भारत में केवल तीन से चार मोबाइल ऑपरेटर ही ऐसे हैं जो एक दूसरे से कॉन्पिटिशन कर रहे हैं।

     अब मोबाइल ओपरेटरों ने अनलिमिटेड प्लान में कटोरा करते हुए आईयूसी चार्ज के रूप में पैसे लेना शुरू कर दिया है, हालांकि समय के साथ आयुषी चार्ज भी ज्यादा कम होता गया लेकिन  1 अक्टूबर 2017 से यह और 6 पैसे प्रति मिनट के हिसाब से फिक्स कर दिया गया है।

आईयूसी अब इतना चर्चा में क्यों है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI) ने 2011 से बार-बार अपने रुख की पुष्टि की है कि IUC शुल्क को शून्य पर लाया जाना चाहिए, लेकिन ) 2016 में पारदर्शी और विस्तृत परामर्श प्रक्रिया के माध्यम से IUC शासन की व्यापक समीक्षा के बाद, TRAI ने पुष्टि की कि मोबाइल कॉल के लिए IUC 1 जनवरी 2020 से खत्म होगा।

ट्राई के इस बात  और पहले से ही IUC को खत्म करने पर भरोसा करते हुए, Jio ने अपने ग्राहकों को अपनी आवाज देने के दौरान Airtel और Vodafone-Idea आदि को अपने स्वयं के खर्चे से IUC का भुगतान करता रहा। शुरू से अभी तक लगभग तीन साल मे Jio ने अन्य ऑपरेटरों को NET IUC शुल्क के रूप में लगभग 1,3,500 करोड़ रुपये का भुगतान किया है।

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI) का मानना था कि 1 जनवरी 2020 से आएगी उसी चार्जर पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा इसी कारण से मोबाइल ऑपरेटर आयुषी चार्ज है अपनी जेब से खर्च करके हमें फ्री कॉलिंग सुविधा उपलब्ध करवा रहे थे लेकिन हाल ही में ट्राई ने कहा है कि आईयूसी (IUC) चार्ज को खत्म करने पर विचार किया जाएगा, हो सकता हैं जियो ने इसी बयान के चलते आईयूसी (IUC) लेना शुरू किया होगा क्योकि जियो ने कुल 13 हज़ार करोड़  रूपए से भी अधिक का IUC चार्ज  दूसरे नेटवर्क ऑपरेटर को दिया है।

     जियो ने 6 पैसे प्रति मिनट का चार्ज लेने को कहा तो बहुत से कस्टमर ने इसका विरोध चालू कर दिया था लेकिन हाल ही में अन्य ऑपरेटर ने भी जिओ के फैसले ऐसा फैसला लेते हुए 6 पैसे प्रति मिनट आईयूसी (IUC) चार्ज लेने का प्लान बना लिया है, अब आप किसी भी नेटवर्क का उपयोग करते हो आपको आईयूसी (IUC) चार्ज अलग से देना ही होगा।

आईयूसी (IUC) चार्ज से नाराज ग्राहको को जियो का मेसेज।

JIO important announcement – FBT

प्रिय Jio परिवार, मोबाइल-कॉल-संबंधित शुल्क के लिए विनियामक नीति में परिवर्तन के कारण, Jio NON-JIO मोबाइल वॉयस कॉल के लिए IUC शुल्क वसूलने के लिए मजबूर है। अपने अगले रिचार्ज के प्रभाव से, 10 अक्टूबर के बाद, NON-JIO मोबाइल नंबरों पर सभी कॉल 6 पैसे / मिनट के हिसाब से लिए जाएंगे। आपके पास 10 रुपये से शुरू होने वाले एक उपयुक्त IUC TOP-UP वाउचर को चुनने का विकल्प होगा, जिसका उपयोग ऐसे गैर-Jio कॉल करने के लिए किया जा सकता है।

आईयूसी की यह वसूली केवल तब तक जारी रहेगी जब तक ट्राई द्वारा आईयूसी चार्ज शून्य नहीं किया जाता है। इन अतिरिक्त आईयूसी टॉप-अप की लागत के लिए हमारे ग्राहकों को क्षतिपूर्ति करने के लिए, हम हर 10 रुपये के लिए अतिरिक्त 1 जीबी डेटा, एबीएसओलूटी फ्री की पेशकश करेंगे। आपके पास jio.com पर जाकर अगले 30 दिनों के लिए पहले के पैक के साथ रिचार्ज करने का विकल्प भी है। सभी Jio से Jio कॉल फ्री होते रहे। मुफ्त कॉलिंग के लाभों का आनंद लेना जारी रखने के लिए, आप दूसरों को हमारे Jio परिवार में आमंत्रित कर सकते हैं। Jio में आपके समर्थन और विश्वास के लिए धन्यवाद। टीम Jio

ट्राई का फूल फॉर्म क्या हैं – TRAI Full Form in Hindi

Trai – Telecom Regulatory Authority Of India – FBT

हमने ट्राई (TRAI) के बारे में बहुत सुना है ऊपर हमने ट्राई (TRAI) का नाम बहुत सी बार लिया हैं लेकिन यदि आप कंफ्यूज हो कि ट्राई (TRAI) क्या है ट्राई के बारे में जानना चाहते हो तो आपको मैं बताना चाहता हूं कि ट्राई का फुल फॉर्म भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI – टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया)  होता है। भारत में दूरसंचार पर नियंत्रण हेतु एक स्वायत्त नियामक प्राधिकरण है, ट्राई का गठन भारत सरकार द्वारा वर्ष 1997 मे किया गया था।

     फॉर्म भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण  (TRAI के द्वारा मुख्य रूप से निम्न प्रकार से कार्य किया जाता है

  • यदि आपको एक मोबाइल ऑपरेटर बनना हें तो आपको टाई से अनुमति लेनी होगी।
  • सभी मोबाइल ऑपरेटर के लिए नियम व शर्तो कि निर्धारण करना।
  • नियम शर्तो को पालन करवाना।
  • कस्टमर को अच्छी सेवा उपलब्ध करवाने हेतु पाबंध करना।
  • स्पैक्ट्रम का संबन्धित नियम शर्ते बनाना
  • कुल मिलकर एक मोबाइल ऑपरेटर को नियंत्रित करना।
  • आदि…

जिओ के आईयूसी (IUC) रिचार्ज प्लान निम्नानुसार है

जियो आईयूसी (IUC) चार्ज – FBT

आपने यह नहीं पढ़ा है तो जरूर पढ़िए-


आज मेने सरल भाषा में ‘‘आईयूसी क्या होता है – What is IUC in Hindi’’ के बारे में वही जानकारी दी हैं जो आपको जानना जरुरी हैं, और अधिक जानकरी के लिए आप हमारे ब्लॉग की केटेगरी “FBT” पर जाकर पढ सकते हैं और हाँ में आपके साथ हर स्थिति में हु।

आपको कभी भी मेरी जरुरत पड़े किसी भी जानकारी के लिए तो आप बेसक मुझे निचे दिए कमेन्ट बॉक्स में अपना सवाल लिख कर सेंड करे आप हमें कमेन्ट के द्वारा ये भी बता सकते हैं की ये जानकारी आपको कैसी लगी, यदि आप अपने परिवार या दोस्तों को ऑनलाइन पैसा कमाने के बारे में बताना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को facebook ओर whatsapp पर शेयर जरुर करे मुझे उम्मीद हैं यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी।

3 thoughts on “आईयूसी क्या होता है – What is IUC in Hindi

  • at
    Permalink

    भारत में 5G सेवाओं को 2021 या 2022 के अंत तक लॉन्च किया जाएगा। ट्राई सचिव ने हाल ही में CII के एक कार्यक्रम में कहा कि “दूरसंचार क्षेत्र 2022 तक 5 G में स्थानांतरित हो जाएगा, यानि अगले 2 सालो के अंदर 5G शुरू हो जाएगा।

    Reply
  • at
    Permalink

    Post is very very useful.But still I am unable to follow it. I am interested in to be a blogger and seriously working on it. Please guide me. Thanks.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page